मियां बीवी में मोहब्बत बढ़ाने का ताकतवर अमल

अगर आप मियां बीवी के बीच में किसी ने गलत फहमी पाया कर दी है या जिसके कारण से आप दोनो में दर्मियां नरजगी या नफरत पाया हो गई है या किसी ऐसी गैर औरत के करना आपका शो नहीं आपको कादर है आपसे मोहब्बत नहीं करता है तो आपको चाहिए के आप शोर की मोहब्बत पाने का वजीफा परहे। ये वज़ीफ़ा परहने से आपका शोर गैर औरत को चोहर आपके पास आ जाएगा और आपको पहले की तरह मोहब्बत करेगा।

मिया बीवी में इख्तिलाफ अगर हो जाए और मसाला ज्यादा जाए तो दोनो में से जो भी चाहे ये वजीफा कर सकते हैं। इस्से इंशा अल्लाह इनके आपस में जो इख्तिलाफ होगा इंशा अल्लाह दूर होगा और मुहब्बत भी चुका होगा। क्या वज़ीफ़ा को करने से मियाँ बीवी में कभी ना ख़तम होने वाली मोहब्बत पड़ी हो जाएगी

मिया बीवी में मोहब्बत पाई करने का तकतवार अमल :-

  • वुज़ू बनाने के बुरे निचे दी हुई आयत को हर नमाज़ के बुरे 100 मरतबा पढ़िये।
  • और फिर 3-3 घोंट पानी जो की दोनो पी खातिर इतने पानी पर दम कर दिजिये।
  • और मिया बीवी दोनो 3 घोंट में पिलिजिये।
  • ये वज़ीफ़ा 90 रोज़ तक बिला नगाह करे।
  • “वाल काज़ीमीनल घाइज़ा वाल आफ़ीना अन्निनासी वल्लाहु योहिबुल मोहसिनेन”

मिया बीवी के बीच मोहब्बत पैदा करने का वज़ीफ़ा

अगार आपक शदी शुदा जिंदगी जी उठे हे। लेकिन किसि न किसि वजाह से दानो मया और बीवी मैं तोकर हो रहि है। तमाम कोशिषो के बावजुद भी दोनो एको साथ साथ तारिक से नहि चल पडे। और दीन-ब-दन दानो मुझे प्यार का गरम है रा रा है तो अपकी है परशानी का हाल हमरे पास है। हमरे बटाये ही अमल और वज़ीफ़े का इस्तिमाल कर्ने से आप और बीवी / शोहर मेरा मुहब्बत अदा हो जाए तो औरगी तमाम दुआते हैं गेब हो जाएंगी में कोई ऐसी बात नहीं है। अगर आपको लोगों के साथ ऐसी कोई समस्या हुई है ।

याह हम आपको 3 अलग अलग तरिके बटाएंगे जीसे आपे आपे शोहर / बीवी मैं बेशुमार प्यार अदा हो जाए। अब हम यारा पार मिया बीवी मुझे मुहब्बत अदा कर के कमाल अम वज़िफ़ा बाने जा राही है।अगार आपे साही ताराइके से मुझे देर हो रही है और आप एप साठी मैं बिच मोहब्बत पेदा होनी शूरू हो जाएगे और आप को रिश्त में अलग रमम पार पावोच जायेंगे। मिया बीवी मैं मुहब्बत बदहाने की दुआ। अक्सर दोनों के बीच प्यार करने में कामयाब होते हैं मिया पत्नी जिसे मियां और पत्नी एक बार फिर से एक-दूसरे के लिए अपार प्यार देंगे और जीवन सचिव पूर्ब एक साथ।

मिया बीवी के बीच मोहब्बत पैदा करने की दुआ

मियां और बीवी के बीच एक बार फिर से झगड़ा हुआ, जिसे वे एक दूसरे के साथ सुलझा लेते हैं, क्योंकि जहां प्यार होता है, वहां दुश्मनी होती है। कभी-कभी हम मियां और बीवी के बीच कुछ देखते हैं। पति और पत्नी के बीच प्यार करने के लिए दुआ एक लड़ाई हुई जिस पर मियां और बीवी पागल हो गए और उनके बीच बहुत दूरियां आ गईं, जो उनके विवाहित जीवन में बार-बार एक समस्या हो सकती है, जिसे मिया बीवी वह शादी खत्म होने के कगार पर पहुंच जाती है और बहुत बार हम देखते हैं कि मीरा या बीवी कोशिश करती है

अपनी शादी को समाप्त करने से बचने के लिए, वे मियां और बीवी के बीच प्यार करने के लिए सभी प्रकार के वजीफे और दुआएँ बनाते हैं। मिया और बीवी के बीच प्यार पैदा करने के लिए तैयार रहना चाहते हैं, लेकिन वे इसे हासिल करने में असमर्थ हैं। जिसने मियां और बीवी के बीच किसी बात को लेकर तनाव पैदा कर दिया है, जिसके कारण उनके बीच प्यार हुआ है और उन दोनों के बीच बहुत दूरियां आ गई हैं, तो मियां और बीवी आपस में हमें कम करने की कोशिश करते हैं। अंतरिक्ष, लेकिन वे इसे प्राप्त करने में असमर्थ हैं, लेकिन अब लोगों को परेशान करने के लिए कुछ भी नहीं है।

पति और पत्नी के बीच प्यार करने के लिए दुआ

अगार आपक शदी शुदा जिंदगी जी उठे हे। लेकिन किसि न किसि वजाह से दानो मया और बीवी मैं तोकर हो रहि है। तमाम कोशिषो के बावजुद भी दोनो एको साथ साथ तारिक से नहि चल पडे। और दीन-बी-दीन दानो मैं प्यार कम होता जा रहा है से अप्की है परशानी का हाल हमरे पास है। मिया बीवी मेरे मोहब्बत पेदा कर के का वज़ीफ़ा। हमरे बटाये ही अमल और वज़ीफ़े का इस्तिमाल कर्ने से आप और बीवी / शोहर मेरा मुहब्बत अदा हो जाए तो औरगी तमाम दुआते हैं गेब हो जाएंगी में कोई ऐसी बात नहीं है।

याह हम आपको 3 अलग अलग तरिके बटाएंगे जीसे आपे आपे शोहर / बीवी मैं बेशुमार प्यार अदा हो जाए। आप हमारे बाबा जी से संपर्क करेंगे, बाबा जी की मिया बीवी के बीच आपको यार उत्पन्न करने की कृपा का उपयोग किया गया है अगार आपक शदी शुदा जिंदगी जी उठे हे। लेकिन किसि न किसि वजाह से दानो मया और बीवी मैं तोकर हो रहि है। तमाम कोशिषो के बावजुद भी दोनो एको साथ साथ तारिक से नहि चल पडे। और दीन-बी-दीन दानो मैं प्यार कम होता जा रहा है से अप्की है परशानी का हाल हमरे पास है। तमाम दुमकाते ऐस गनाब हो जायेंगी जो कोई भी होगा कभी नहीं होगा।

पति और पत्नी के बीच प्यार करने के लिए वजीफा

दुनीया में हम मिया बिवाई अपनें रिशते को मझबूट और भी भूरा मारते हैं। आइसा कोन साड़ी शुदा जोदा है जो अपना रिश्ता मुझे मोहब्बत का इज़्ज़फ़ा नहाता है हर शोहर और बेगम की दिल के अरमानों की गर्माहट है, वो भी ऐसी है, जो मोहब्बत के लिए है, और एक दुसरे की फिकर है। और इस्से लीये ऐने दीन वो नाए ये दुनीयावी पित्रे आपनते है। जी हॅन, आप मिया बायवी में मुहब्बत अदा कर के, अमल करे और इंशा अल्लाह, आपक डॉनो की मुहब्बत अस्माँ की चैतन चोएगी। मियाँ बीवी में मुहब्बत अदा करते हैं,

अमल करते हैं, ख़ास है और अल्लाह तआला को ख़ास पसंद कहते हैं। जब आप मिया बीवी में मुहब्बत अदा करते हैं, तो दुआ मांगते हैं, तो आपके दिल में बसते हैं, मोहब्बत की रानियां, और आपके दिलों में बसते हैं, मोहब्बत से प्यार करते हैं। आप दोनो इक दुसरे के साथ बहोत खुश होते हैं। अगार अइको आइसा लगत है कि मियां बीवी के रिश्तों को किसकी नजर लग गई है और तो क्या आप मियां बीवी में मेरी मुहब्बत की अदाओं के लिए दुआ करते हैं। आप हमार मोलवी साब से आइके मुतालिक बात करे। हमरे मोलवी साहब आप दोनो की नजर उतारेगे और हमको बीवी में मेरी मुहब्बत अदा करते हैं

If you need any type of help and Guidance talks to us without any hesitation. In Sha Allah we will solve your problem.

Enquiry Form

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *