किसी को वापस लाने का अमल

किसी को वापस लाने का अमल हिंदी में, “जब आप किसी से प्यार करते हैं तो आप उससे अलग होने की बात सोच भी नहीं सकते। लेकिन अगर किसी वजह से वो आपसे दूर हो गया है तो अपना दिल छोटा ना करे। आप किसी को वापस लाने का वज़ीफ़ा परहे और इंशा अल्लाह वो शक आपकी ज़िंदगी में वापस आएगा। अगर कोई ऐसा है जिसके बिना आप अपने जीने का तस्व्वुर भी नहीं करना चाहते और वो आपको चोर चला गया है तो आप किसी को वापस लाने की दुआ जरूर परहे। उसी तरह घर से भागा हुआ वह व्यक्ति भी घूमता हुआ सीधा घर लौट आएगा।

अगर वो शक आपसे किसी बात पर नराज हो गए है और आपसे बात करना बिलकुल बंद कर दिया है, बाल्की आपकी कोई बात सुन को राजी भी नहीं है तो आप किसी को वापस लाने का वजीफा जरूर परहे। अगर वो आपके पास लौट को बिलकुल तय्यर नहीं है तो वज़ीफे की मदद से इंशा अल्लाह वो अपने आप रज़ी हो जाएंगे और सब कुछ पहले जैसा हो जाएगा। किसी को वापस लाने का अमल बेहद तेज और असरदार तारिका है किसी भी शक को जो आपसे नराज हो उसे अपने पास वापस बुलाने का।

किसी को वापस लाने का अमल

अगर आपके महबूब को गुस्सा बहुत जल्दी आता है और वो बात बात पे आपसे रिश्ता तोड़ लेते हैं और आपको चोरके चले जाते हैं तो आप किसी को वापस लाने का अमल करे। ये अमल आपके महबूब के दिल में आपके लिए बहुत प्यार करेगा और उनके गुसा करने की आदत खतम हो जाएगी। वो खुद बा खुद ही आपके पास लौटेंगे और आप दोनो के बीच कभी कोई लड़की नहीं होगी। और कुछ ही दिनों में आपके महबूब को आपके सामने खड़ा कर देगा। आप आज ही इसे परहे और खुद बा खुद इसका असर देखे। सबसे पहले ताले पर उस भागे हुए व्यक्ति का पूरा नाम और जन्म की तारीख लिख दें।

अगर आपके महबूब आपको किसी और की वजह से चोर कर चले गए हैं और वो अब आपके साथ नहीं बाल्की किसी और के साथ अपनी जिंदगी बिटना चाहते हैं तो आप किसी को वापस लाने का तवीज तूरंत तूरंत ये तवीज़ आपके महबूब को आपकी तरफ़ खीचेगा और वो हमें शक को चोरके अपने आप ही आपके पास लौटेंगे। आप सिर्फ मोलवी जी को अपनी पूरी परशानी बता और वो आपके लिए किसी को वापस लाने का तवीज बना के देंगे। तवीज़ बेहद असरदार है घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा के लिए अब 11 बार दुरूद ए शरीफ पढ़े और चाबी की मदद से ताला बंद कर दें। अब उस ताले को हवा में ऊँचा उछाल दे और भागकर कब्रिस्तान से बाहर निकल जाएं।

किसी को वापस लाने की दुआ और तवीज़

  • किसी को वापस लाने की दुआ याहा पे दी गई है –
  • जुमेरात के दिन, सूबा फज्र की नमाज में सुन्नत और फर्ज के दर्मियां आप दुआ को पारे हैं।
  • शुरू आप 21 मार्तबा दुरूद शरीफ परहने से करे।
  • Uske तु ayat parhe baad
  • “Wa- alkaitu Alaika mahabbatan minnee walitusna’a a’la aaynee iz tamshee ukhtuka fatakoolu hal adullukum आला आदमी yakfuluhu faraja anaaka ilaa ummika Kee taqarra aynuha वाला tahzana waqatalta nafsan fanajjaynaka मीना alghammi wafatannaka futoonan fala बिस्टा sineena अहली madyana सुम्मा जीता अलकादारिन या मोसा तना’तुका लिनाफ देखें”
  • फ़िर दुरूद शरीफ़ 21 मरतबा अखिर में पारे।
  • और अल्लाह ताला से हमें शक को अपनी जिंदगी में वापस लाने की दुआ करे।
  • इंशा अल्लाह, आपकी दुआ कुबूल हो जाएगी और वो शक आपके पास लौटेगा।

किसी को वापस बुलाने का वजीफा

किसी को वापस बुलाने का वजीफा – दोस्तों यदि कोई आपसे रुठ कर या बिछुड़ कर चला गया है तो आप चिंता न करे, आज हम आपके लिए लेकर आये है घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा और किसी को दिल से बुलाने का वजीफा। इस वज़ीफ़े को महबूब को वापस बुलाने का वजीफा भी कहा जाता है. इस दुनिया में किस व्यक्ति के दिमाग में कब कौन-सा ख्याल आ जाए ये केवल वही व्यक्ति जानता है या अल्लाह जानता है। अक्सर ऐसा होता है कि हमारा अपना कोई करीबी व्यक्ति हमसे दूर चला जाता है। ऐसे व्यक्ति को वापस बुलाने के लिए आप किसी को वापस बुलाने का वजीफा पढ़ सकते है।

इस वजीफे की मदद से वह व्यक्ति दुनिया के किसी भी कोने में क्यों ना हो, वापस जरूर लौट आएगा। यदि आपका भी कोई दोस्त, महबूब, बेटा, बेटी, पति, पत्नी, प्रेमी या अन्य कोई भी व्यक्ति आपसे दूर चला गया है और आप उसे अपने पास वापस बुलाना चाहते है तो एक बार किसी को वापस बुलाने का वजीफा अवश्य अपनाएं। हमारा दावा है कि हमारे द्वारा बताए गए सभी वजीफे असरदार है और बहुत जल्द आपका मुराद पूरी कर देंगे। ध्यान रखिए वह ताला आपको हवा की दिशा में घूमाकर उछालना है। घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा में जैसे वह ताला घूमकर नीचे गिरेगा,

महबूब को वापस बुलाने का वजीफा

किसी को वापस बुलाने का वजीफा जो हम आपको बता रहे है, वह बहुत ही सरल है और आप घर पर खुद इस वजीफे को कर सकते है। इसके लिए सबसे पहले एक सफेद कागज लें जो तीन इंच चौड़ा और तीन इंच लंबा होना चाहिए। इस कागज पर आपको उस व्यक्ति का नाम लिखना है, जिसे आप वापस बुलाना चाहते है। इसके साथ ही उसकी माँ का नाम भी कागज पर लिख दें। किसी को वापस बुलाने का वजीफा के लिए अब आपको उस कागज में एक धागा बांधकर घर के बाहर लटका देना है। इस वजीफे से वह व्यक्ति जहाँ कहीं भी होगा आपकी ज़िन्दगी में वापस आ जाएगा। घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा के लिए आप रविवार के दिन बाज़ार से एक नया ताला खरीद कर लें आए।

महबूब को वापस बुलाने का वजीफा – आमतौर पर ऐसा देखा जाता है कि प्यार-मोहब्बत के रिश्तों में छोटी-छोटी बातों को लेकर तकरार आ जाती है। यदि आप किसी से सच्ची मोहब्बत करते है तो ऐसी छोटी बातों को नज़रअंदाज़ करने की आदत डाल लीजिए। कई बार हमारी कोई छोटी गलती या किसी गलतफहमी के कारण हमारा महबूब हमसे रूठ जाता है। जो लोग अपने महबूब से सच्चा प्यार करते है, वे उसके बगैर अपनी ज़िन्दगी की कल्पना भी नहीं कर सकते है। ऐसे में अपने महबूब को वापस बुलाने के लिए महबूब को वापस बुलाने का वजीफा का इस्तेमाल किया जा सकता है। अब रात को 12 बजे आपको कब्रिस्तान जाना है और वहाँ जाकर घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा करना है।

घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा

यदि आपका भी प्रेमी (या प्रेमिका)आपसे दूर चला गया है तो आप ये महबूब को वापस बुलाने का वजीफा अपना सकते है। इस वजीफे के लिए सबसे पहले ताजा वुज़ू बना ले और अपने महबूब की तस्वीर अपने सामने रखकर बैठ जाएं। यह वजीफा आपको रात में 11 बजे के बाद अपनाना है। महबूब को वापस बुलाने का वजीफा में सबसे पहले 7 बार दुरूद ए पाक पढ़े। इसके बाद 7 मरतबा सुरह यासीन पढ़े और आखिर में 7 बार दुरूद ए पाक फिर से पढ़े। महबूब को वापस बुलाने का वजीफा में अब आपको अल्लहा से अपने महबूब को वापस बुलाने की दुआ करनी है। अब एक लाला धागे पर दम करके अपने सामने रखी तस्वीर पर बांध दें। महबूब को वापस बुलाने का वजीफा की मदद से मात्र सात दिन में आपका महबूब आपकी ज़िन्दगी में वापस आ जाएगा।

घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा – कई बार हमारे परिवार का कोई सदस्य किसी बात से नाराज़ होकर घर से भाग जाता है। अक्सर बच्चे अपने माता-पिता की डांट से परेशान होकर या फिर पढ़ाई में कम नंबर आने के कारण घर से भागने का फैसला कर लेते हैं। वहीं कई बार कुछ बड़े-बुज़ूर्ग लोगों को अपने बहू-बेटों की बात का बुरा लग जाता है। उनकी कही बात वे दिल में बैठा लेते हैं और घर से भाग जाते हैं। लेकिन सच्चाई तो ये है कि कोई भी करीबी व्यक्ति हमारी भलाई के लिए हमे डांटता है और अपना समझकर ही कुछ भी बोलता है। ऐसे में घर से भागने का फैसला उचित नहीं है। इसके बावजूद यदि आपके घर का कोई सदस्य भाग गया है तो आप घर से भागे हुए को वापस बुलाने का वजीफा अपना सकते हैं।

If you need any type of help and Guidance talks to us without any hesitation. In Sha Allah we will solve your problem.

Enquiry Form

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *